India Times Group

उत्‍तराखण्‍ड से जुड़े हैं श्रद्धा हत्‍याकांड के तार, जल्‍द आएगी दिल्‍ली पुलिस

 

देहरादून। श्रद्धा हत्याकांड  के तार उत्‍तराखण्‍ड से भी जुडे हो सकते हैं। इस मामले में दिल्‍ली पुलिस जल्‍द ही हिमाचल प्रदेश व उत्‍तराखण्‍ड में अपनी
पूछताछ शुरू करेगी। दरअसल, आफताब मामले की छानबीन में पुलिस को लगातार गुमराह कर रहा है। यही कारण है कि पुलिस उसके हर बयान की तस्दीक कर लेना चाहती है। पुलिस ने आफताब से सच उगलवाने के लिए नार्को टेस्ट कराने की अपील की थी।

इस बीच जांच के सिलसिले में दिल्ली पुलिस की टीमें मुंबई, गुड़गांव, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड का दौरा कर चुकी हैं। जांच से जुड़े जांचकर्ताओं ने कहा कि आरोपी आफताब अमीन पूनावाला के फोन को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा ताकि उन लोगों की पहचान की जा सके जो श्रद्धा की हत्या के बाद उसके संपर्क में थे। पुलिस डिलीट किए गए डेटा को रिकवर करने की कोशिश करेगी। पुलिस ने अब तक जो हड्डियां बरामद की हैं। प्रथम दृष्टया, वे इंसान की हड्डियों से मिलती जुलती हैं।

मुंबई छोड़ने के बाद, श्रद्धा वाकर और आफताब ने कई स्थानों की यात्रा की थी। पुलिस की टीमें इन राज्यों में यह पता लगाने कोशिश कर रही हैं कि यात्राओं के दौरान तो कुछ ऐसा नहीं हुआ जिसकी वजह से यह हत्या हुई। पुलिस सूत्रों ने बताया कि हम हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के उन होटलों के मालिकों और कर्मचारियों से बात करेंगे, जहां श्रद्धा और आफताब ठहरे थे। इन कर्मचारियों से आफताब की पहचान कराने की कोशिश होगी। टीम ने गुरुग्राम में एक कंपनी के कार्यालय का भी दौरा किया जहां आफताब काम करता था। बताया जा रहा है कि आफताब ने कई दिन उत्‍तराखण्‍ड के अलग-अलग स्‍थानों की यात्रा की थी और यहां कई होटलों में  ठहरे थे। पुलिस इस कोण पर जांच कर रही है कि यहां की यात्रा के दौरान तो कही उनके बीच कोई दरार आयी होगी और यहीं से इस हत्‍याकांड की पटकथा लिखनी शुरू हुयी होगी।

बताते चलें कि कुछ दिन पहले 14 नवंबर को अचानक दिल्ली पुलिस ने एक बड़ा खुलासा किया। जिसमें बताया गया कि करीब 6 महीने पहले दिल्ली में एक खौफनाक हत्याकांड को अंजाम दिया गया । जिसमें एक फ्लैट में युवक ने अपनी गर्लफ्रेंड की हत्या की और उसके बाद शव के 35 टुकड़े कर दिए। आफताब नाम के इस आरोपी ने गला दबाकर श्रद्धा की हत्या की। इसके बाद उसने किचन में आरी से शव के टुकड़े किए। शव के टुकड़े करने के बाद उसने एक बड़ा फ्रिज खरीदा और इसमें सभी टुकड़े रख दिए। जिन्हें बाद में उसने ठिकाने लगाया। मामले का खुलासा तब हुआ जब श्रद्धा के पिता ने बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस को बताया गया कि वो अपने लिवइन पार्टनर के साथ रहती थी। पुलिस ने आफताब को गिरफ्तार किया और उसके बाद से ही चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। फिलहाल पुलिस को शव के कुछ टुकड़े मिले हैं, लेकिन आफताब लगातार पुलिस को भटकाने की कोशिश कर रहा है। यही वजह है कि पुलिस अब तक हत्या में इस्तेमाल किया गया हथियार बरामद नहीं कर पाई है। फिलहाल आरोपी आफताब का नार्को टेस्ट किया जाएगा, जिसके बाद असली सच्चाई सामने आ सकती है।