India Times Group
पथरी में कच्ची शराब पीने से अभी तक कुल 12 ग्रामीणों की मौत, गांव के जंगल में छापा मारकर पुलिस ने पकड़ी एक शराब की भट्टी
 

रुड़की। पथरी में कच्ची शराब पीने से अब तक 12 ग्रामीणों की मौत हो चुकी है। इसके बाद भी कच्ची शराब का धंधा करने वाले बाज नहीं आ रहे। भगवानपुर थाना पुलिस ने लाम ग्रंट गांव के जंगल में छापा मारकर एक शराब की भट्टी पकड़ी है। वहां से पुलिस ने तैयार कच्ची शराब के अलावा लहान और उपकरण बरामद किए हैं। भट्टी चला रही एक महिला को मौके से गिरफ्तार किया गया है। हालांकि एक आरोपित मौके से फरार होने में सफल हो गया।

पंचायत चुनाव में मतदाताओं को रिझाने के लिए शराब बड़ा हथियार

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर शराब की मांग काफी बढ़ चुकी है। पंचायत चुनाव के कुछ प्रत्याशी मतदाताओं को रिझाने के लिए शराब को बड़ा हथियार मान रहे हैं। इसी के चलते वह अन्य राज्यों से देसी शराब मंगवा रहे हैं। साथ ही कच्ची शराब भी बनवा रहे हैं।

भगवानपुर थाना पुलिस को सूचना मिली की क्षेत्र के लाम ग्रंट गांव के जंगल में कुछ लोग कच्ची शराब की भट्टी बनाकर शराब निकालने का काम कर रहे हैं। सूचना पर पुलिस ने मौके पर छापा मारा। छापे के दौरान पुलिस को मौके से कच्ची शराब भट्टी मिली है। साथ ही करीब 5 लीटर कच्ची शराब और लाहन भी बरामद किया है।

एक आरोपित पुलिस को देखकर खेतों की ओर भागा

पुलिस ने मौके से रुकमणी नाम की एक महिला को गिरफ्तार किया है। जबकि शराब बनाने का काम कर रहा एक आरोपित पुलिस को देखकर खेतों की ओर भाग गया। पुलिस आरोपित की तलाश कर रही है। पुलिस ने मौके से गैस सिलेंडर, ड्रम, पाइप, कंस्तर आदि सामान बरामद किया है।

भगवानपुर थाना प्रभारी निरीक्षक अमरजीत सिंह ने बताया कि शराब के अवैध कारोबार पर क्षेत्र में पूरी तरह से अंकुश लगाने के लिए पुलिस दिन-रात गश्त कर रही है। कच्ची शराब व अवैध शराब का धंधा करने वालों को किसी भी स्थिति में बख्शा नहीं जाएगा। उनकी ओर से लगातार अवैध शराब के खिलाफ व्यापक अभियान चलाया हुआ है। बता दें कि पथरी थाना क्षेत्र में कच्ची शराब पीने से 12 ग्रामीणों की मौत हो चुकी है जबकि कई की हालत अब भी नाजुक बनी है।