India Times Group
एलन मस्क की कंपनी भारत में एंट्री को तैयार, यहां जाने किन कंपनियों से हो सकता है करार
 

दुनिया के सबसे अमीर शख्स और स्पेसएक्स के मालिक एलन मस्क जल्द ही भारत में इंटरनेट सेवा प्रदाता क्षेत्र में धमाकेदार एंट्री कर सकते हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक मस्क ने अपनी स्टालिंक सेवा भारत में शुरू करने की तैयारी कर ली है। इसके साथ ही इसके लिए कंपनी पार्टनर की तलाश भी शुरू कर दी है।

इन भारतीय कंपनियों से हो सकता है गठजोड़ 
एलन मस्क भारत में स्टारलिंक सेवा प्रदान करने के लिए कंपनी पार्टनर के तौर जिन भारतीय कंपनियों पर नजर रख रहे हैं, उनमें रिलायंस जियो, वोडाफोन आइडिया, भारतनेट और रैटेन शामिल हैं। मस्क की अगुवाई वाली स्पेसएक्स की सैटेलाइट ब्रॉडबैंड कंपनी स्टारलिंक ग्रामीण क्षेत्रों पर ब्रॉडबैंड सर्विस पर फोकस बढ़ा सकती है।

भारत में मिले 5000 से ज्यादा प्री-बुकिंग आर्डर
रिपोर्ट की मानें तो स्टारलिंक का कहना कि उसे भारत से 5,000 से अधिक प्री-बुकिंग आर्डर मिल चुके हैं। कंपनी प्रति ग्राहक 99 डॉलर या 7,350 रुपये ले रही है और बीटा चरण में 50 से 150 एमबीपीएस प्रति सेकंड की डेटा स्पीड देने का दावा कर रही है है। भारत में स्टारलिंक के कंट्री डायरेक्टर संजय भार्गव ने कहा कि नीति आयोग द्वारा चरण-1 के तहत 12 जिलों की पहचान करने के बाद ब्रॉडबैंड सर्विस प्रोवाइडर के साथ चर्चा शुरू होगी और हम कई कंपनियों और यूनिवर्सल सर्विस ऑब्लिगेशन फंड के रुचि के स्तर को देखेंगे।

सैटेलाइट के जरिए इंटरनेट सेवा देगी स्टारलिंग
दरअसल मस्क स्टार लिंक के जरिए सेटेलाइट के माध्यम से इंटरनेट सर्विस मुहैया करा रहे हैं और अब भारत में भी इसकी शुरुआत करना चाहते हैं। इस सर्विस को शुरू करने के लिए मस्क को नियामक मंजूरी का इंतजार है। अभी अमेरिका समेत कुछ देशों में स्टालिंक सेवा शुरू हो चुकी है। यह सेवा मौजूदा समय में 1500 से ज्यादा सेटेलाइट के जरिए दी जा रही हैं। कंपनी प्रोजेक्ट के पहले चरण में 12,000 सैटेलाइट्स लॉन्च कर सकती है।