India Times Group

रिलायंस इंडस्ट्रीज़ का मुनाफा 15 प्रतिशत घटा

 

मुंबई।  पेट्रो रसायन, दूरसंचार, रिटेल और डिजिटल सहित विभिन्न क्षेत्रों में कारोबार करने वाली देश की सबसे बड़ी निजी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 15792 करोड़ रुपये का समग्र शुद्ध लाभ अर्जित किया जो पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि के 18549 करोड़ रुपये के लाभ की तुलना में 15 प्रतिशत कम है।कंपनी ने निदेशक मंडल की बैठक के बाद शेयर बाजार को दी जानकारी में कहा कि उसके समग्र शुद्ध लाभ में 0.6 प्रतिशत की बढोतरी हुयी है और यह 17806 करोड़ रुपये रहा है।

कंपनी ने कहा कि वित्तीय वर्ष 2022-23 की तीसरी तिमाही में उसने उपभोक्ता व्यवसायों के दम पर 240,963 करोड़ रुपये का समग्र राजस्व अर्जित किया है जो वार्षिक आधार पर 14.8 प्रतिशत अधिक है।उसने कहा कि दिसंबर 2022 को समाप्त होने वाली तिमाही में रिलायंस का पूंजीगत व्यय 37,599 करोड़ रुपये रहा है जबकि कंपनी पर इस तिमाही में कर्ज 303,530 करोड़ रुपये रहा। उसके पास नकद और नकदी के बराबर 193,282 करोड़ रुपये रहे।

कंपनी ने कहा कि तीसरी तिमाही में जियो प्लैटफ़ॉर्म्स का समग्र राजस्व 29,195 करोड़ रुपये रहा जो दिसंबर 2021 में समाप्त तिमाही की तुलना में 20.8 प्रतिशत ज़्यादा है। जियो प्लैटफ़ॉर्म्स का तीसरी तिमाही का शुद्ध मुनाफ़ा 4,881 करोड़ रुपये रहा है जो दिसंबर 2021 की तिमाही की तुलना में 28.6 प्रतिशत ज़्यादा है। जियो ने 53 लाख ग्राहक जोड़े और इस तरह 21 दिसम्बर 2022 तक रिलायंस के कुल ग्राहकों की संख्या 43.29 करोड़ तक पहुँच गई है। सभी को 5जी नेटवर्क से जोडऩे की प्रतिबद्धता को आगे बढ़ाते हुए, जियो ने भारत के 22 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 134 शहरों को अपने 5 जी नेटवर्क से जोड़ा है।

कंपनी के रिटेल ने शानदार प्रदर्शन के दम पर रिकॉर्ड तिमाही राजस्व दर्ज किया है। रिटेल कारोबार का तिमाही राजस्व 17.2 प्रतिशत बढक़र रिकॉर्ड 67,623 करोड़ रुपये रहा है। रिटेल का मुनाफा 4,773 करोड़ रहा। इस तिमाही में 789 नए स्टोर खोले हैं। अब रिलायंस रिटेल के स्टोर्स की संख्या 17,225 हो गई है। रिलायंस के तेल रसायन व्यवसाय ने 144,630 करोड़ रुपये का राजस्व दर्ज किया।