India Times Group
भारत पर फेड रिजर्व की मार, और बढ़ेगी ईएमआई!
 

नई दिल्ली। महंगाई को बड़ी चुनौती मानते हुए अमेरिकी सेंट्रल बैंक फेडरल रिजर्व ने एक बार फिर से ब्याज दरें बढ़ा दी हैं। बीती रात फेडरल रिजर्व ने ब्याज दरों में 75 बेसिस प्वाइंट बढ़ोतरी का ऐलान किया है। अमेरिका में ब्याज दर बढऩे के बाद अब भारतीय रिजर्व बैंक पर भी कर्ज महंगा करने का दबाव बढ़ गया है। पॉलिसी दरों पर फैसला लेने के लिए अगले हफ्ते आबीआई की बैठक है और आशंका बढ़ गई है कि आरबीआई भी कर्ज महंगा करने के लिए पॉलिसी दरों में बदलाव कर सकता है।

अमेरिकी सेंट्रल बैंक की तर्ज पर अगर रिजर्व बैंक पॉलिसी दरों में बदलाव करके कर्ज और महंगा होने का रास्ता खोलता है, तो होम और कार लोन की ईएमआई बढ़ जाएगी। हालांकि ईएमआई में कितनी बढ़ोतरी होगी, यह रेपो रेट में होने वाली संभावित बढ़ोतरी पर निर्भर करेगा।