उत्तराखंडः बीजेपी विधायकों की मांग, Corona संक्रमण रोकने के लिए फिर लगाया जाए लॉकडाउन

बुधवार को एक दिन में सबसे अधिक 1061 केस सामने आए। अब तक संक्रमितों की संख्या 27 हजार के आकंड़े को पार कर चुकी है।

देहरादून। कोरोना संक्रमण पूरे देश में तेज़ी से फैल रहा है और उत्तराखंड भी इसका अपवाद नहीं है। हालांकि उत्तराखंड में कोरोना वायरस देर से पहुंचा था और शुरुआत में स्थिति काफ़ी नियंत्रण में भी रही थी लेकिन जैसे-जैसे अनलॉक में नियमों में ढील दी गई कोरोना संक्रमण तेज़ी से बढ़ने लगा। स्थिति यह है कि 6 महीने में संक्रमितों की संख्या 27 हज़ार के पास हो गई है। संक्रमण को काबू में करने के लिए अब एक बार फिर लॉकडाउन करने की मांग उठने लगी है हालांकि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी इससे सहमत नहीं हैं।

27000 पार

15 मार्च को उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण का पहला मामला सामने आया था। उसके बाद से अब तक बुधवार को एक दिन में सबसे अधिक 1061 केस सामने आए। 6 महीने में संक्रमित लोगों की संख्या 27 हजार के आकंड़े को पार कर चुकी है। साढ़े आठ हजार से अधिक एक्टिव केस हैं।

पहाड़ से लेकर मैदान तक कोई जिला ऐसा नहीं है जहां रोज कोरोना के मामले सामने न आ रहे हों। संक्रमण की चपेट में सबसे अधिक चार जिले हरिद्वार, देहरादून, ऊधम सिंह नगर और नैनीताल हैं।

सतर्कता ही बचाव है

ऐसे में अब एक बार फिर लॉकडाउन की मांग जोर पकड़ने लगी है। सत्ताधारी पार्टी भाजपा के राजपुर से विधायक खजानदास और बदरीनाथ से विधायक महेंद्र भट्ट का कहना है कि एक बार फिर से लॉकडाउन किया जाना चाहिए ताकि स्थिति पर नियंत्रण किया जा सके।

दूसरी ओर डीजी हेल्थ अमृता उप्रेती का कहना है कि बढ़ता संक्रमण एक चैलेंज तो है लेकिन लॉकडाउन समाधान नहीं है। पूरी सतर्कता के साथ इसको फेस करना ही एकमात्र रास्ता है।

Source link

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *