अटल और हिंदुत्व के सहारे आगामी चुनावों में पार होगी भाजपा की नैया

जयपुर। दिसंबर में होने वाले चार राज्यों के विधान सभा चुनाव में भाजपा के लिए तीन राज्यों में सत्ता वापसी एक बड़ी चुनौती है। भाजपा फिलहाल इन राज्यों के लिए चुनावी रणनीति बनाने में भी लग गई है। हाल ही में आई सी वोटर की सर्वे ने भाजपा की टेंशन को और बढ़ा रही है। इसलिए भाजपा अब अपने दिवंगत नेता अटल बिहारी वाजपेयी को भुनाने में लग गई है। साथ ही साथ अपने हिंदुत्व के एजेंडे को भी धार देने की कोशिश में लग गई है। वैसे तो मध्य प्रदेश और राजस्थान में अपने हिंदुत्व के एजेंडे को थोड़ा कम कर के रखने वाली भाजपा इस बार बड़ी चुनौती को देखते हुए इसको एक बार फिर हावी कर रही है। हाल में ही जहां मध्य प्रदेश शासन ने मदरसों को तिरंगा यात्रा निकालने और विडियो बनाने का फरमान इसी कड़ी का हिस्सा है। स्वयं ब्ड शिवराज सिंह चैहान अपनी जीवन संगीनी साधना सिंह के साथ प्रदेश के मंदिर मंदिर का भ्रमण कर रहे हैं। वहीं राजस्थान में गौ रक्षा के नाम पर अपने हिंदुत्व के एजेंडे का साधने में भाजपा लग गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *