अभिमंच के वार्षिकोत्सव में 81 हजार की फेलोशिप की घोषणा

नई दिल्ली। नवलेखन समेत रचनात्मकता को मंच और प्रोत्साहन देने के लिए संकल्पित और साहित्य समाज के लिए के उद्देश्य से स्‍थापित ‘अभिमंच’ ने अपने पहले वार्षिकोत्सव पर प्रतिभावान गरीब छात्रों के लिए दो फेलोशिप की घोषणा की है। मंच के सचिव नित्यानंद तिवारी ने बताया कि पहली ‘बहादुर प्रकाश फेलोशिप’ के तहत चयनित छात्र को प्रतिवर्ष 60 हजार रुपये और दूसरी ‘शेखर मिश्रा फेलोशिप’ के लिए चुने गए छात्र को 21 हजार रुपये की मदद दी जाएगी। यह घोषणा करते हुए तिवारी ने संकेत दिया कि मंच का प्रयास होगा कि अभाव की वजह से प्रतिभावान को मायूसी न झेलनी पड़े।

तिवारी ने बाद में हमारे संवाददाता को बताया कि यह राशि छात्रों या अभिभावकों को न देकर छात्र के कोर्स के आधार पर उसके द्वारा दाखिला लिए गए संस्‍थान/विश्वविद्यालय को सीधे वार्षिक शुल्क के रूप में अदा की जाएगी। छात्रों का चयन आवेदन के आधार पर प्रतिभा और आर्थिक स्थिति को मद्देनजर रखते हुए किया जाएगा।

दिल्ली के आइटीओ क्षेत्र स्थित हिंदी भवन के आयोजन में वी एल मीडिया सोलुशंस से प्रकाशित चार पुस्तकों ‘स्वा‌धीनता की भूख’ (अरविंद पांडेय), पंचायतीराज में ग्राम प्रधानों की भूमिका (डॉ. आशा यादव), अभिमंच के सदस्य कवियों के साझा कविता संकलन ‘अभिकाव्य’ (संपादन- डॉ. गुरविंदर बगा) और अंग्रेजी कविता संग्रह ‘दि फर्स्ट स्टेप (विनोद मेरता) के विमोचन और सम्मान कार्यक्रम के साथ काव्यपाठ भी हुआ।

अभिमंच के उपाध्यक्ष डॉ गुरविंदर बांगा ने साझा काव्य संग्रह अभिकाव्य और संस्‍था के बारे में चर्चा की. व्यंग्यकार सुलतान भारती ने संस्था द्वारा किये जाने वाले प्रयासों की सराहना की। डॉ आमना मिर्ज़ा, प्राध्यापक डॉ. धनंजय जोशी, डॉ राजीव रंजन द्विवेदी ने अभिमंच को भाषायी संगम का मंच बताया।

अतिथि कवि-पत्रकार सत्येन्द्र प्रकाश, सुल्तान भारती के साथ ही मंच के सदस्य कवियों मयंक राजेश, कविता कबीरा, पीयूष कांति, भोजपुरी के देवेंद्र सिंह, प्रतीक प्रकाश करण, राजदीप, रंजना पाण्डेय, नम्रता, संदीप तोमर, सोम मोहापात्रा आदि ने अलग-अलग रस बरसाते हुए श्रोताओं को सराबोर किया।

अभिमंच ने डॉ गुरविंदर बांगा को ‘कबीर साहित्य सम्मान’, सुल्तान भारती को “प्रेमचंद साहित्य सम्मान”, प्रो बी.एन मिश्रा को “दिनकर साहित्य सम्मान”, पंकज त्रिवेदी को “साहित्य चेतना सम्मान”, मयंक राजेश को “अभिकाव्य साहित्य सम्मान” प्रदान किया और उदय सर्वोदय के प्रबंध संपादक तबरेज़ खान को पत्रकारिता-जगत में उनके योगदान के लिए विशिष्ट सम्मान से नवाजने के साथ ही संचालक डॉ उमेश पाठक, डॉ. द्विवेदी, प्रो. जोशी और गरिमा पांडे को भी सम्मानित किया। कवियों को प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रो.बी.एन मिश्रा ने की जबकि मुख्य अतिथि के रूप में पंकज त्रिवेदी (गुजरात) ने अपनी खास मौजूदगी दर्ज कराई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *