Home » s » s

s

‘अन्य विभागों की तरह पुलिस विभाग में संगठन बनाने की अनुमति नहीं है न ही कर्मचारियो को हड़ताल पर जाने की अनुमति है लेकिन इसका ये मतलब नही है की उनकी मांगो को अनदेखा कर दिया जाये‘‘ मंै पूरी कोशिश करूंगा कि अपने कार्यकाल में पुलिसिंग के स्तर का आधुनिकरण कर पाऊं- कुछ इन्ही शब्दों के साथ 1979 बैच के आईपीएस आफिसर बिरिंदर सिंह सिद्धू ने प्रदेश के नये डीजीपी की कमान सम्भाली, अपने तेज रवैये के चलते हमेशा ही चर्चाओ में रहे सूबे के नवनियुक्त डीजीपी ने विभाग के अधिकारियो और कर्मचारियों को इंडिया टाइम्स के माध्यम से खुद से रूबरू कराया और इस विषय पर उनसे खास बातचीत की हमारी संवाददाता दीपिका सनवाल ने - 

सवाल- आपके जीवन का लक्ष्य क्या था ?
जवाब- मै  हमेशा से ही आईपीएस
आफिसर बनना चाहता था, एंट्रेंस के समय में भी मैंने केवल आईपीएस को चुना था, साथ ही फायर आर्म्स में मेरी हमेशा से रूचि रही है इसलिए भी मैंने आईपीएस को चुना, मैं हमेशा एक ऐसी सर्विस को चुनना चाहता था जहां मेरे योगदान को देखा जा सके और जिससे मंै दूसरों की मदद कर सकूं। 

सवाल- आपके पद ग्रहण करने के बाद पुलिस विभाग में किस तरह के बदलाव देखने को मिलेंगे ?
जवाब- पुलिस  विभाग में कई बडे़ बदलाव देखने को मिलेंगे, पुलिसिंग के स्तर को सुधारा जायेगा, यातायात पर अधिक फोकस रहेगा, फोर्स  में मोबाइल यूनिट्स को इजाद किया जायेगा, ताकि छोटी छोटी चीजों पर भी पुलिस अच्छे से काम कर सके।

सवाल- अपने कार्यकाल के दौरान आप किन कार्यों को प्राथमिकता देंगे ?
जवाब- पहले विभाग के कार्यो और अपनी ज्म्मेदारियो को सही से समझना चाहूँगा ,मैंने  विभाग के कुछ वरिष्ठ अधिकारियों के साथ भी अपने विचारों को शेयर किया है ताकि सब मिल कर उनपर काम कर सके। सबसे पहले तो चैराहों पर जो भी पुलिस कार्य कर रही है चाहे वो चालान काटना हो या फिर नियम तोड़ने वाले को पकड़ना सबकी वीडियोग्राफ पुलिस करे ताकि बाद में पुलिस पर कोई आरोप न लगाया जा सके, पुलिस का आधुनिकीकरण किया जायेगा साथ ही एन्फोर्समेंट पर ज्यादा ध्यान दिया जायेगा।

सवाल- पुलिस  विभाग में भ्रष्टाचार की बातें अक्सर सामने आती रही है इस विशय में आपका क्या कहना है ? 
जवाब- पुलिस विभाग में आरोप-प्रत्यारोप का दौर हमेशा से ही चलता आया है, पुलिस जनता की सुरक्षा और सहायता के लिए बनी है और मुझे लगता है उत्तराखंड की पुलिस अपने कार्यो को पूरी जिम्मेदारी से निभा रही है, और अगर अब आगे इस तरह के सवाल पुलिस विभाग पर उठते हंै तो उसकी जांच की जाएगी।
 
सवाल- अब तक के कार्यकाल के आपके क्या अनुभव रहे हैं?
जवाब- मेरा अब तक का कार्यकाल सफलताओ भरा रहा है ,कई जिलो की कमान मेरे हाथो में रही है।
जीवन में कई उतार चढ़ाव भी मेने झेले हैं लेकिन अब तक के कार्यकाल से यही सीखा है कि हमेशा अपने अनुभवो से काम लेना चाहिए और मंै बतौर डीजीपी ऐसा ही करूँगा, मेरी जिम्मेदारियां भी अब और अधिक बढ़   गयी हैं।

सवाल- भूमाफियाओं के खिलाफ आपके स्तर से क्या कारवाही की जाएगी ?
जवाब- गुनहगार हमेशा गुनहगार होता है फिर चाहे गुनाह छोटा हो या बड़ा भूमाफियाओ से जुड़ी शिकायते हमेशा से ही पुलिस के पास आती रही है, माफिया चाहे कोई भी हो उनके खिलाफ सख्त से सख्त कारवाही की जाएगी, खनन करने वालो के खिलाफ भी सख्त कारवाही होगी।

सवाल- क्या लगता है विभाग में अब भी क्या कमियां हैं ?
जवाब- विभाग में कमियां तो नहीं है हाँ लेकिन समय के साथ बदलाव की जरूरत हमेशा ही रहती है इसलिए पुलिसिंग के स्तर को सुधारा जायेगा, फॉरेंसिक लैब को और बेहतर बनाया जायेगा, इन्वेस्टीगेशन प्रणाली में सुधार किया जायेगा ताकि विभाग और अच्छा काम कर सके, समय समय पर सेमिनारस और पुलिस ट्रेनिंग सेषन्स का भी आयोजन किया जाएगा
 
सवाल- विभाग में निचले स्तर पर
कर्मचारियों के शोषण को रोकने की दिषा में आप क्या कदम उठायेंगे ?
जवाब- विभाग में अगर कहीं शोषण जैसी बाते सामने आ रही है तो उसके खिलाफ जल्द ही कारवाही की जाएगी, साथ ही पुलिस विभाग में वेतन सम्बन्धी जो भी रूकावटे आ रही है  उसके सबंध मे मैंने शासन से भी बात की है ,अन्य विभागों के कर्मचारी सन्गठन बना कर हडताल कर लेते है जिससे उनकी मांगे पूरी हो जाती है लेकिन पुलिस विभाग में संगठन बनाने की अनुमति नही है इसलिए ध्यान दिया जायेगा की पुलिस कर्मचारियों की मांगो को जल्द से जल्द पूरा किया जाये। 

सवाल- पिछले कुछ वर्षों में विभाग के कर्मचारियों में डिप्रेशन की शिकायत ज्यादा आई है जिस कारण कुछ कर्मचारियांे ने आत्महत्या जैसा कदम भी उठाया है। आप इसका क्या कारण मानते है ? इसे रोकने के लिए आपके पास क्या सुझाव हैं?
जवाब- पुलिस कर्मचारियों में डिप्रेषन की बात सही है। मै पूरी कोशिश करूंगा कि अब इस तरह की स्थिति विभाग में पैदा न होने पाए कर्मचारियों की जरुरतो को ध्यान में रखा जायेगा और पूरी कोशिश की जाएगी के उन्हें मानिसिक तौर पर किसी तरह की परेशानी न झेलनी पडे़।

सवाल- विभाग के लिए आप क्या संदेष देना चाहेंगे?
जवाब- विभाग से जुडे़ सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को यही संदेश देना चाहूंगा के अपने  कार्य अपनी ड्यूटी को सही से निभाएं, पुलिस लोगों की सहायता और सुरक्षा के लिए बनी है इसलिए अगर लोग अपने घरो में सुरक्षित है प्रदेश में सुरक्षित है तो यही हमारे लिए सबसे बड़ी उपलब्धि   
होगी।             ससस

ये भी है चुनौतियां
स    सूचना एकत्र करने के लिये खुफिया तन्त्र को मजबूती देना।
स    एसटीएफ व सीबीसीआईडी जैसी एजेंसियों को सशक्त करना।
स    संगठित अपराधो की रोकथाम के लिये कार्ययोजना।
स    शहरों के लिये ट्रैफिक प्लान तैयार करना।

नाम-     बिरिंदर सिंह सिद्धू
आईपीएस बैच-     1979
शिक्षा -    एम बी ए (गोल्ड मेडलिसट)
निवासी-    लुधियाना (पंजाब)



abortion pills abortion pill buy the abortion pill online
online purchase abortion pill online abortion pill buy online
open read why do husbands have affairs
buy cheap viagra online uk buy herbal viagra jellys generic viagra softabs
buy cheap viagra online uk viagra slipped into drink generic viagra softabs
why husband cheat on their wife women who want to cheat letter to husband who cheated
link how married men cheat reasons people cheat
link how married men cheat reasons people cheat
My wife cheated on me why wife cheated redirect
my wife cheated on me now what woman affair dating a married man
why some women cheat reasons women cheat on their husbands why do wife cheat on husband
want my wife to cheat husband cheated on me read here
read here how women cheat the unfaithful husband
spy app for android phone open free spy app
rifaximin bistromc.org sildenafil citrate 25mg
propranolol pill link fluconazole
discount card for prescription drugs softballspa.com viagra manufacturer coupon
discount prescriptions coupons read discount drug coupon
viagra coupons online interview-questions.sumedh.in discount drug coupon
abortion pill abortion pill abortion pill
can i take antabuse and naltrexone can i take antabuse and naltrexone can i take antabuse and naltrexone
cialis free coupon free cialis coupons coupons for prescription medications
cialis prescription coupon sentencingguidelines.co.uk copay cards for prescription drugs
houston abortion clinic open free abortion clinics in chicago
Scroll To Top